ज्योतिष उपाय की सार्थकता

 Read this article in English

 

 मित्रों जब  आप किसी ज्योतिषी से परामर्श करते हो तो वह आपको कई तरह के उपाय बताते हैं , जिनमे रत्न , पूजा, दान , उपवास आदि क्रिया हो सकती हैं। कुछ लोग इस बात पर आशंकित होते हैं कि यदि यह निश्चित है कि  जो होना है वह होना ही है तो उपाय किस तरह से सहायता करेंगें  या कभी कभी यह भ्रान्ति भी होती है कि  उपाय करने से सब ठीक हो जायेगा और विपत्ति या विपरीत समय से छुटकारा मिल जायेगा।

इस लेख मे मैं अपने अनुभव के आधार पर कुछ सच्चाई लिख रहा हूँ।  इस लेख का आशय किसी भी ज्योतिष विद्वान के इस विषय मे अनुभव को चुनौती देना या गलत साबित करना नहीं है।  इस लेख का विषय आम व्यक्ति को ज्योतिष उपाय के विषय मे जागरूक करना है। 


इस लेख में मैं जिज्ञासु जन के द्वारा पूछे गए प्रश्नो को लेकर उनके उत्तर लिख रहा हूँ।

1 क्या ज्योतिष उपाय से जीवन बदल जायेगा ?

जन्मपत्री के विश्लेषण के पश्च्यात ही यह बताया जा सकता है आपके जीवन की  क्या दिशा है। ग्रह स्थिति , महादशा अंतर दशा , गोचर आदि की विवेचना के बाद ही यह सुनिश्चित होगा कि ज्योतिष उपाय कौन से करने श्रेयस्कर होंगे।
विवेचना के बाद ही यह बताया जा सकता है कि ज्योतिष उपाय से कितना लाभ संभव है।

2 अगर सब कुछ निश्चित है तो ज्योतिष उपाय का क्या लाभ ?

अगर बरसात हो रही है या तेज़ धूप  है तो छतरी का क्या लाभ ? लाभ है क्योंकि छतरी बरसात या धूप के प्रभाव को कम  करती है।
उसी प्रकार ज्योतिष उपाय भी विपरीत समय के प्रभाव को कम कर देते हैं यदि वह बताई गई विधि, लगन , श्रद्धा से लगातार किये जाए। ज्योतिष उपाय जादू नहीं करते परन्तु अपना शुभ प्रभाव अवश्य दिखाते हैं।

ज्यादातर लोग ज्योतिष परामर्श समस्या मे फसने के बाद लेते हैं और आशा करते हैं कि समस्या से छुटकारा मिल जाये।

प्रथम तो यह समझ ले कि विपरीत समय जबतक है तब तक रहेगा , कोई भी पूजा , अनुष्ठान , रत्न उस समय को काम या ज्यादा नहीं कर सकता क्योंकि इसका कार्मिक आधार है।  यदि ज्योतिष परामर्श नियमित लिया जाये तो यह उपाय एक ढाल कि तरह काम करते हैं। वैसे ही की पानी बरसने से पहले ही छतरी खोल लेना न कि पानी मे भीग जाने के बाद।  दोनों ही स्थिति मे छतरी अपना काम करेगी परन्तु आप  पर  प्रभाव अलग होगा।

ज्योतिष प्रभाव शुभ समय के अनुभव को बढ़ा देते हैं। शुभ समय भी निश्चित है और यह भी आएगा ही।  ज्योतिष उपाय निश्चित तौर पर शुभ अनुभव को बढ़ाते हैं।

3 ज्योतिष उपाय के विषय मे आप क्या राय देना चाहेंगे ?

मेरी राय मे ज्योतिष उपाय लगातार करना चाहिए यानि परामर्श के अनुसार यह उपाय प्रतिदिन करने से शुभ अशुभ प्रभाव पूरी तरह से अनुकूल रहते हैं।

4 मुझे एक ज्योतिषी ने अनुष्ठान बताये हैं , परन्तु वह बहुत ही मंहगे हैं। क्या मुझको करना चाहिए ?

यह आप पर निर्भर करता है कि आपका विश्वास कैसा है। कोई भी ज्योतिषी अपने अनुभव के बल पर ही ज्योतिष उपाय बताता है। अनुष्ठान आदि के खर्चे पर भी आपको ही निर्णय लेना होगा। परन्तु इस बात से आश्वस्त हो जाये कि जो भी उस अनुष्ठान या पूजा करा रहा है वह उसके विधि विधान का विशेषज्ञ हो।

5 आप किस प्रकार के ज्योतिष उपाय बताते हैं ?

ज्योतिष उपाय का पहला नियम है कि जो व्यक्ति परामर्श ले रहा है उसको सही स्थिति से अवगत करा देना आवश्यक है। स्थिति का सही ज्ञान देते समय यह भी आवश्यक है कि  व्यक्ति को संभावनाएं बताया जाए, उसको न ही  डराया जाये और न ही अत्यधिक आशावान बनाया जाए।
 
मैं बहुत ही सरल विधियां बताता हूँ जिनमे ज्यादातर चिड़ियों एवं जानवरों  को कुछ विशेष खाने की वस्तुएं देना, इष्टदेव की प्रतिदिन पूजा, चालीसा, स्त्रोत , आदि का पाठ हो सकता है जो की कोई भी व्यक्ति आराम से दैनिक दिनचर्या मे सम्मलित कर सकता है।

मैं ज्योतिष उपाय को प्रतिदिन करने पर जोर देता हूँ। यह स्थितियां अनुकूल रखते हैं। मन पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं।

6 क्या रत्न पहने से लाभ मिलेगा ? वह बेहतर होते हैं ?

रत्न भी प्रभावशाली उपाय हैं परन्तु मैं रत्न सिर्फ शुभ ग्रह को शक्ति प्रदान करने के लिए ही पहने की सलाह देता हूँ। रत्न को शुभ महूर्त मे पहने से उसका प्रभाव बढ़ जाता है परन्तु यह भी निश्चित कर ले कि रत्न की गुणवत्ता अच्छी हो और आपके बजट मे हो।

7 यदि परिवार जन के लिए मैं उपाय करूँ तो क्या उसको लाभ होगा ?

यदि बीमार की जगह आप दवा लें तो क्या बीमार व्यक्ति को लाभ होगा ? नहीं होगा।  यही बात ज्योतिष उपाय पर भी लागू होती हैं।

छोटे बच्चे , अत्यधिक बीमार व्यक्ति जो चिकित्सालय मे भर्ती है, परिवार का सदस्य जो कुछ समय के लिए नगर से बाहर गया हो आदि परिस्थिति मे आप उपाय उनके नाम से कीजिये |

छोटे बच्चे के हाथ से वस्तु स्पर्श करा कर पशु पछियों को दें।  बीमार व्यक्ति यदि घर पर हैं तो भी हाथ से स्पर्श करा दीजिये।  यदि व्यक्ति जल्दी मे हैं और खुद नहीं कर सकते तो स्पर्श करके आप को दे दें और बाद मे आप उसको पशु पछियों को दे दीजिये।  प्रातः उपाय करने से लाभ होता है।

8 हीलिंग से क्या लाभ होता हैं ?

सेरेनिटी सरेंडर हीलिंग से हमारी कार्मिक यात्रा मे अर्जित कर्मों के प्रभाव को जाना जाता है और प्रभावशाली तरीके से उसको हील किया जाता है। हमारे आत्मिक विश्वास हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं और यदि उन विश्वास को समझ कर उनको सही विश्वास एवं विचार से बदल दिया जाये तो जीवन की बहुत सारी समस्या का हल निकला जा सकता हैं।

(सेरेनिटी सरेंडर  के लिए यहाँ क्लिक कीजिये)

अंत मे मै  यह कहना चाहूंगा कि आत्मविश्वास होना अच्छा है परन्तु ज्योतिष परामर्श आपका सही मार्गदर्शन करता  है।

जन्म कुंडली की विवेचना से यह भी बताया जा सकता है कि जिसको उपाय बताया जा रहा है वह उसको श्रद्धा पूर्वक करेगा या नहीं। और उपाय करने से कितना लाभ होगा।

इष्टदेव का ध्यान  , गुरु एवं  परिवार मे बुजुर्गों का आशीर्वाद और, अपना कर्म सही नियत से करना बहुत बड़ा उपाय है, और यदि आप कोई आध्यात्मिक साधना करते हैं तो उस साधना को और कीजिये। आध्यात्मिक साधना सभी तरह की परिस्थितियों को अनुकूल बनाती है और मनः स्थिति सकारात्मक रखती हैं और मनः स्थिति ही जीवन के परिणामों को प्रभावित करती हैं।  ज्योतिष उपाय मनः स्थिति को प्रभावित करते हैं।

शुभकामनाएँ,

अनुरोध

ज्योतिष हीलर की सेवाओं के विषय मे जानने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

टिप्पणियां